लखनऊ नगर निगम कर्मचारी संयुक्त मोर्चा का किया गया गठन

लखनऊ नगर निगम कर्मचारी संयुक्त मोर्चा का किया गया गठन

लखनऊ नगर निगम कर्मचारी संयुक्त मोर्चा का किया गया गठन

Posted by: Firsteye Desk, Updated: 07/11/19 05:33:28pm


लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार, उत्तर प्रदेश शासन एवं नगर निगम प्रशासन स्तर पर लखनऊ नगर निगम के कर्मचारियों की अनेकों लम्बित मांगों का निराकरण न किये जाने पर नगर निगम लखनऊ के कर्मचारी संघों/संगठनों द्वारा लखनऊ नगर निगम कर्मचारी संयुक्त मोर्चा का गठन किया गया। मोर्चे में मार्ग प्रकाश कर्मचारी संगठन, सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण समिति लखनऊ, नगर महापालिका कर्मचारी यूनियन लखनऊ, आर0आर0 एवं सेन्ट्रल वर्कशाप मजदूर संघ, केन्द्रीय कार्यशाला एवं आर0आर0 कर्मचारी संघ, उ0प्र0 नगर निगम कर्मचारी संघ लखनऊ, विद्युत एवं यांत्रिक विभाग कर्मचारी संघ लखनऊ, नगर निगम कर्मचारी संघ लखनऊ, उ0प्र0 स्थानीय निकाय सेवानिवृत्त अधिकारी/कर्मचारी परिषद नगर निगम लखनऊ एवं स्वायत्त शासन कर्मचारी  संगठन उत्तर प्रदेश की पूर्ण सहभागिता होगी। 

इसे भी पढ़ें- बगदादी को मार गिराने में सहायता करने वाले कुत्ते को लाया जाएगा व्हाइट हाउस

मीडिया प्रभारी शमील एख़लाक एवं दीपक शर्मा द्वारा बताया गया कि सभी  संघों के अध्यक्ष जिसमें सर्वश्री चन्द्रप्रकाश अग्निहोत्री, किशन चन्द्र उपाध्याय, बाबू मुकेश शाक्य, अशोक गोयल, महमूद  अहमद, राजेश भारती, श्याम बिहारी शुक्ल, राजेश सिंह, आनन्द वर्मा, विकास कुमार गोंड को अध्यक्ष मण्डल एवं सर्वश्री विमल कुमार पाण्डेय, अरुण कुमार अवस्थी, प्रदीप बाजपेयी, रामअचल, राकेश तिवारी, रमेश चैरसिया, उमेश चन्द्र यादव, अमरनाथ, मंसूर अली, जावेद अहमद को संचालक मण्डल का दायित्व सौंपा गया है। ओमप्रकाश उप्रेती, एहरार अहमद कोषाध्यक्ष के पद का कार्य सम्पादित करेंगे। दीपक शमार्, शमील एख़लाक मीडिया प्रभारी के रूप में मोर्चे में योगदान देंगे।

इसे भी पढ़ें- अयोध्या फैसले के मद्देनजर लखनऊ महोत्सव को लेकर लिया गया यह निर्णय

 शमील एख़लाक एवं दीपक शर्मा मीडिया प्रभारी द्वारा यह भी बताया गया कि लखनऊ नगर निगम कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के मण्डल अध्यक्ष एवं संचालक मण्डल की कार्यकारिणी की बैठक में उ0प्र0 सरकार, उ0प्र0 शासन एवं निगम प्रशासन स्तर पर कर्मचारियों की लम्बित मांगों के सम्बन्ध में मांग पत्र का ज्ञापन तत्काल बनाकर मा0 मुख्यमंत्री, मा0 नगर विकास मंत्री, मा0 महापौर, प्रमुख सचिव नगर विकास, निदेशक स्थानीय निकाय निदेशालय, नगर आयुक्त नगर निगम लखनऊ को प्रेषित किया जायेगा तथा मांगों की पूर्ति पत्राचार, वार्ता एवं आन्दोलन के माध्यम से करायी जायेगी। 
 

Recent Comments

Leave a comment

Top