संघर्ष भरा जीवन रहा शिव प्रेमचंद्र शाक्य का: अनिल कुमार शुक्ला

संघर्ष भरा जीवन रहा शिव प्रेमचंद्र शाक्य का: अनिल कुमार शुक्ला

संघर्ष भरा जीवन रहा शिव प्रेमचंद्र शाक्य का: अनिल कुमार शुक्ला

Posted by: Firsteye Desk, Updated: 08/11/19 07:57:05pm


रिपोर्ट- सुरेंद्र कुमार मिश्र
औरैया। उत्तर प्रदेश के औरैया जनपद की बिधूना तहसील के कद्दावर भाजपा नेता रहे डॉक्टर शिव प्रेमचंद शाक्य जिन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में लंबे समय तक कार्य करने के बाद जब संयुक्त जनपद इटावा हुआ करता था उस समय जनसंघ  के अध्यक्ष रहे और कई अन्य महत्वपूर्ण पदों पर भी काबिज रहे। वह जिला सहकारी बैंक इटावा के प्रशासक रहे और तत्कालीन कन्नौज लोकसभा क्षेत्र की सर्वाधिक सियासी दृष्टिकोण से संवेदनशील कहलाने वाली भरथना विधानसभा से भाजपा की प्रत्याशी भी रहे थे ,इसके अलावा भी उन्होंने राजनीतिक क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया ।

इसे भी पढ़ें- पछुआ हवाओं ने बढ़ाई उत्तर प्रदेश में ठंडक

 उनकी सबसे खासियत यह थी कि वह जीवन की आखिरी सांस तक अपने कार्यकर्ता के सम्मान और स्वाभिमान के लिए समर्पित रहे। उनकी सोच थी कि पहले कार्यकर्ता और उसके बाद घर परिवार उन्होंने कभी भी जातिवाद और परिवारवाद की राजनीति में विश्वास नहीं किया । वह अपने कार्यकर्ताओं को कभी कभी इस बात को लेकर डांट भी दिया करते थे कि पहले पार्टी और कार्यकर्ता का सम्मान सुरक्षित रहना चाहिए, उसके बाद किसी अन्य बिंदु पर बात की जाए । आज से करीब 80 वर्ष पहले उमरैन में जन्म लेने वाले डॉ शाक्य ने जिस तरह से क्षेत्र में अपनी पहचान बनाई थी ,करीब ढाई  वर्ष पूर्व जब उनका निधन हुआ तो हर आदमी इस बात को लेकर दुखी था कि समाज में एक मार्गदर्शक के रुप में जो भूमिका उनकी रहा करती थी शायद अब उससे सबको अछूता रहना पड़ेगा। 

इसे भी पढ़ें- जानें आखिर क्यों डोनाल्ड ट्रंप पर लगा 20 लाख डॉलर का जुर्माना

आज उनके 80 वें जन्मदिन पर भाजपा के जिला उपाध्यक्ष अनिल कुमार शुक्ला ने उनके परिजनों के साथ मिलकर उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद कहा कि आज मैं राजनीतिक जीवन में जो कुछ भी हूं और जो कुछ भी कर रहा हूं यह उनकी ही प्रेरणा है वह मेरे जीवन के सबसे अच्छे मार्गदर्शक थे, मैं उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।
            

add image

Recent Comments

Leave a comment

Top