राज्यसभा में गरजे अमित शाह- कश्मीर में हालात सामान्य

राज्यसभा में गरजे अमित शाह- कश्मीर में हालात सामान्य

राज्यसभा में गरजे अमित शाह- कश्मीर में हालात सामान्य

Posted by: , Updated: 20/11/19 01:27:05pm


नई दिल्ली,एजेंसी। संसद के शीतकालन सत्र के तीसरे दिन आज ग़ह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में अपना संबोधन दिया। गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में बोलते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर में जहां तक इंटरनेट सेवाओं को बहाल करने का मामला है। इसका निर्णय जम्मू कश्मीर के अधिकारियों द्वारा लिया जा सकता है।पाकिस्तान द्वारा कश्मीर इलाके में गतिविधियां होती हैं, इसलिए सुरक्षा को देखते हुए जब भी स्थानीय अधिकारी इसे उचित समझेंगे, इसपर फैसला लिया जाएगा।

कश्मीर के हालात पर बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि वहां स्थिति पूरी तरह से सामान्य हो चुके हैं।देश-दुनिया में कई तरह की अफवाहें फैली हुई हैं। कश्मीर में 5 अगस्त के बाद पुलिस फायरिंग में एक भी जान नहीं गई है। वहीं कश्मीर में पत्थरबाजी की घटनाएं भी कम हुई हैं। सभी स्कूल-कॉलेज खुले हैं। परीक्षाएं अच्छे तरीके से चल रही हैं। सभी अस्पताल और स्वास्थ्य केंद्र खुले हैं।

 यह भी पढ़े :रामपुर- शादी से लौट रहे अधेड़ की निर्मम हत्या, जांच में जुटी पुलिस

अस्पतालों में पर्याप्त व्यवस्था

जम्मू कश्मीर के हालात पर बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में दवाई की पर्याप्त उपलब्धता है, अस्पतालों में काफी संख्या में लोग ओपीडी में आ रहे हैं। कहीं भी स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं में कोई दिक्कत नहीं है। राज्यसभा में बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि पेट्रोल, डीजल, केरोसिन, रसोई गैस और चावल की उपलब्धता पर्याप्त है। 22 लाख मीट्रिक टन सेब का उत्पादन होने की उम्मीद है। सभी लैंडलाइन खुले हैं।

 यह भी पढ़े :  Noida: इन मांगो को लेकर आज भी जारी रहा चाइल्ड पीजीआई में नर्सिंग स्टाफ का प्रदर्शन

शाह का गुलाम नबी पर निशाना

कश्मीर मसले पर कांग्रेस पर हमला बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि मैं गुलाम नबी आजाद साहब को चुनौती देता हूं कि इन तथ्यों का मुकाबला करें, जो आपने रिकॉर्ड पर इन आंकड़ों पर आपत्ति नहीं जताई? मैं इस मुद्दे पर एक घंटे के लिए भी चर्चा करने को तैयार हूं।

जम्मू कश्मीर पर चर्चा के दौरान उन्होंने राज्यसभा में कहा कि वहां सभी उर्दू/अंग्रेजी अखबार और टीवी चैनल काम कर रहे हैं। बैंकिंग सेवाएं पूरी तरह से चालू हैं।  सभी सरकारी कार्यालय और सभी न्यायालय खुले हैं।इस दौरान वहां ब्लॉक विकास परिषद के चुनाव भी हुए, जहां 98.3% मतदान दर्ज किया गया।

 यह भी पढ़े :होमगार्ड वेतन घोटाला : राज नारायण समेत 5 बड़े अफसर गिरफ्तार

राज्यसभा में उठा SPG सुरक्षा हटाने का मुद्दा

कांग्रेस सांसद आनंद शर्मा ने आज राज्यसभा में पार्टी नेताओं सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को एसपीजी कवर वापस लेने का मुद्दा उठाया। इस दौरान उन्होंने कहा कि हम सरकार से आग्रह करते हैं कि हमारे नेताओं की सुरक्षा के मुद्दों को पक्षपातपूर्ण राजनीतिक विचारों से परे होना चाहिए। 

यह भी पढ़े : पीएम मोदी से मिले एनसीपी चीफ शरद पवार

इसपर जवाब देते हुए राज्यसभा में भाजपा नेता जेपी नड्डा ने कहा कि कुछ भी राजनीतिक नहीं है, सुरक्षा वापस नहीं ली गई है। गृह मंत्रालय का एक बहुत ही निर्धारित पैटर्न है और एक प्रोटोकॉल है। यह एक राजनेता द्वारा नहीं किया जाता है, यह गृह मंत्रालय द्वारा किया जाता है और खतरे की धारणा के अनुसार सुरक्षा दी जाती है और वापस ले ली जाती है।


 

Recent Comments

Leave a comment

Top