महाराष्ट्र: बीजेपी नेता का दावा उनके पास 170 MLAs का समर्थन

महाराष्ट्र: बीजेपी नेता का दावा उनके पास 170 MLAs का समर्थन

महाराष्ट्र: बीजेपी नेता का दावा उनके पास 170 MLAs का समर्थन

Posted by: Mrs. Pooja Jha, Updated: 23/11/19 12:47:51pm


महाराष्ट्र में नाटकीय घटनाक्रम के तहत राज्यपाल बी.एस. कोश्यारी ने शनिवार सुबह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता देवेंद्र फडणवीस को राज्य के मुख्यमंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता अजीत पवार को उप मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई। महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि मतदाताओं ने भाजपा-शिवसेना गठबंधन को 161 विधायकों के साथ जनादेश दिया था, लेकिन शिवसेना ने जनादेश को धोखा दिया। पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद से उन्होंने विकल्प के बारे में बात करना शुरू कर दिया था।

महाराष्ट्र की राजनीति में हुए उलटफेर से सियासी में आया भूचाल, बयानों का दौर शुरू, यहां जानें किस नेता ने क्या कहा

पाटिल ने कहा कि संजय राउत को अब चुप रहना चाहिए। उन्होंने शिवसेना को बर्बाद कर दिया है। वहीं भाजपा नेता गिरीश महाजन ने कहा कि हम 170 से अधिक विधायकों के समर्थन के साथ बहुमत साबित करेंगे। अजीत पवार ने अपने विधायकों के समर्थन के बारे में राज्यपाल को एक पत्र दिया है और वह एनसीपी विधायक दल के नेता हैं। इसका मतलब है कि सभी एनसीपी विधायकों ने हमारा समर्थन किया है। 

बीजेपी के प्रवक्ता सैयद जफर इस्लाम ने यहां कहा कि महाराष्ट्र में नई सरकार के पास पूरा बहुमत है। विधानसभा के पटल में मुख्यमंत्री आसानी से बहुमत साबित कर देंगे। बहुमत के आंकड़े के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने भाजपा के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल के हवाले से दावा किया कि सरकार के समर्थन में कम से कम 168 विधायकों का समर्थन हासिल है। रिपोर्टों के अनुसार, अजीत पवार ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के 22 विधायकों के साथ बैठक करके भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार में शामिल होने का फैसला किया। पर बहुमत के लिए शिवसेना के विधायकों के भी टूटने के बारे में पूछे जाने पर इस्लाम ने कहा कि वह सटीक आंकड़ों के बारे में नहीं बता सकते हैं। पर दावा करते हैं कि सदन में कम से कम 168 विधायक सरकार के समर्थन में हैं। 

 महाराष्ट्र में बड़ा सियासी उलटफेर, देवेंद्र फडणवीस ने ली सीएम पद की शपथ

इस बीच मुंबई में भाजपा एक प्रवक्ता ने दावा किया कि सरकार के साथ राकांपा के सभी विधायक हैं। रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (अठावले) के नेता रामदास अठावले ने दावा किया कि राकांपा राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) और केन्द्र में नरेन्द्र मोदी सरकार में शामिल होगी तथा सुप्रिया सुले मंत्री बनेंगीं। उधर, महाराष्ट्र से भाजपा के सूत्रों ने कहा कि अजीत पवार को चूंकि एनसीपी के विधायक दल का नेता चुना जा चुका था। इसलिए दल-बदल कानून उनके फैसले पर लागू नहीं होगा बल्कि उनके साथ नहीं आने वाले विधायकों को संभवत: अनुशासन के मामले का सामना करना पड़े।

आपको बता दें महाराष्ट्र में विधानसभा के चुनाव 21 अक्टूबर को हुए थे और परिणाम 24 अक्टूबर को आये थे। 288 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा को सर्वाधिक 105, शिवसेना को 56, एनसीपी को 54 और कांग्रेस को 44 सीटें हासिल हुईं थीं। भाजपा एवं शिवसेना तथा कांग्रेस एवं एनसीपी गठबंधन के रूप में चुनावी मैदान में उतरे थे। भाजपा एवं शिवसेना के गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिलने के बावजूद सरकार का गठन नहीं हो पाया। शिवसेना ने मुख्यमंत्री पद पर दावा कर दिया था जिसे भाजपा ने स्वीकार नहीं किया। कई दिनों तक गतिरोध कायम रहने के कारण राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की सिफारिश पर 12 नवंबर को राष्ट्रपति शासन लगाया गया था।

Recent Comments

Leave a comment

Top