महाराष्ट्र: उद्धव सरकार ने हासिल किया बहुमत, भाजपा सदस्यों का सदन से वॉकआउट

महाराष्ट्र: उद्धव सरकार ने हासिल किया बहुमत, भाजपा सदस्यों का सदन से वॉकआउट

महाराष्ट्र: उद्धव सरकार ने हासिल किया बहुमत, भाजपा सदस्यों का सदन से वॉकआउट

Posted by: Mrs. Pooja Jha, Updated: 30/11/19 03:29:35pm


महाराष्ट्र।   उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में बनी महाविकास अघाड़ी सरकार ने बहुमत हासिल कर लिया है। विधानसभा की कार्यवाही के दौरान भाजपा के सदस्यों ने सदन का बहिष्कार किया। जिसके बाद सदस्यों की गिनती कर बहुमत परीक्षण की प्रक्रिया पूरी की गई। सभी सदस्यों ने अपनी सीट पर उठकर नाम और क्रमांक बताया। उद्धव सरकार का 169 सदस्यों ने समर्थन किया जबकि विपक्ष में शून्य सदस्यों ने मतदान किया क्योंकि भाजपा ने सदन से वॉकआउट किया था। एमएनएस सदन में उपस्थित रही लेकिन उसने पक्ष-विपक्ष से अलग हटकर तटस्थ रुख अपनाया।

इसे भी पढ़ें- इस टीवी एक्ट्रेस के रिसेप्शन में पहुंचे पीएम मोदी, कहलाती है रीवा की राजकुमारी

भाजपा सदस्यों का सदन से वॉकआउट
सदन में विश्वासमत प्रक्रिया के दौरान भाजपा के सदस्यों ने विधानसभा से वॉकआउट किया। जिसके बाद प्रोटेम स्पीकर ने विधानसभा के दरवाजों को बंद करने का आदेश दिया। देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हम राज्यपाल को अनियमितता का पत्र सौपेंगे।

अशोक चह्वाण और नवाब मलिक ने पेश किया बहुमत परीक्षण का प्रस्ताव
महा विकास अघाड़ी के सदस्यों ने इस प्रस्ताव का अनुमोदन किया। प्रोटेम स्पीकर ने कहा कि बहुमत परीक्षण गुप्त मतदान से नहीं होगा बल्कि सदस्यों को गिना जाएगा।

देवेंद्र फडणवीस ने उद्धव सरकार को घेरा
पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सदन की कार्यवाही के शुरुआत में वंदे मातरम को न गाने पर सवाल उठाए। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष से पूछा कि इस सत्र की शुरुआत वंदे मातरम से क्यों नहीं हुआ। नियमों के खिलाफ सदन को बुलाया गया। विधानसभा अध्यक्ष ने प्वाइंट ऑफ ऑर्डर को जारी करने से इनकार कर दिया। उन्होंने मंत्रियों के शपथग्रहण के तरीके पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव किए बगैर बहुमत परीक्षण नहीं कराया जा सकता है। फडणवीस ने यह भी कहा कि प्रोटेम स्पीकर को भी नियमों को ताक पर रखकर बदला गया। इन सभी आपत्तियों को प्रोटेम स्पीकर ने खारिज कर दिया।

इसे भी पढ़ें- दीपिका पादुकोण ने एक साल में कर डाली 1000 करोड़ रुपए की कमाई

सुप्रिया सुले और देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र विधानसभा पहुंचे
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की नेता सुप्रिया सुले और र्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस बहुमत परीक्षण के लिए विधानसभा पहुंच गए हैं। इनके अलावा सभी पार्टियों के विधायकों के भी विधानसभा पहुंचने का सिलसिला जारी है। 


शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने जारी किया व्हिप
शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने अपने विधायकों को व्हिप जारी करते हुए आज विधानसभा में उपस्थित रहने का निर्देश दिया है।


नाना पटोले ने नामांकन पत्र दाखिल किया
महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस नेता नाना पटोले ने नामांकन पत्र दाखिल कर दिया है। इस दौरान उनके साथ एनसीपी के नेता और कैबिनेट मंत्री छगन भुजबल, प्रफुल्ल पटेल और शिवसेना कोटे से मंत्री बने एकनाथ शिंदे मौजूद रहे। 

नागपुर विधानसभा सत्र के बाद एनसीपी घोषित करेगी डिप्टी सीएम
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के नेता प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि डिप्टी सीएम का पद एनसीपी के पास है और हम नागपुर विधानसभा सत्र के बाद इस पद पर किसी को नियुक्त करेंगे। यह सत्र 22 दिसंबर को समाप्त होगा।

प्रोटेम स्पीकर बदलने पर बिफरी भाजपा, कहा सुप्रीम कोर्ट में करेंगे अपील
महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने उद्धव सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रोटेम स्पीकर पद पर कालिदास कोलम्बकर की जगह दिलीप वालसे पाटिल को नियुक्त किया गया है जो कानूनी रूप से गलत है। उन्होंने शपथ भी नियमों के अनुसार नहीं ली। यह सरकार सभी नियमों का उल्लंघन कर रही है। इस मामले में हम राज्यपाल के पास याचिका दायर कर रहे हैं। भविष्य में हम सुप्रीम कोर्ट में भी अपील कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि विधायक किशन कथोरे विधानसभा अध्यक्ष के लिए भाजपा के उम्मीदवार होंगे। जबकि, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बाला साहब थोराट ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए नाना पटोले कांग्रेस के उम्मीदवार होंगे।

इसे भी पढ़ें- इस टीवी एक्ट्रेस के रिसेप्शन में पहुंचे पीएम मोदी, कहलाती है रीवा की राजकुमारी

अजीत पवार ने भाजपा सांसद से मुलाकात पर दी सफाई
अजित पवार ने शनिवार सुबह भाजपा सांसद प्रतापराव चिकलीकर से मुलाकात की। जब अजित पवार से इस मुलाकात के मायनों के बारे में पूछा गया तब उन्होंने कहा कि यह सिर्फ एक शिष्टाचार मुलाकात थी, भले ही हम अलग-अलग पार्टियों से हों लेकिन हम सभी एक-दूसरे के साथ संबंध रखते हैं, फ्लोर टेस्ट पर कोई चर्चा नहीं हुई। जैसा कि संजय राउत ने कहा, हमारा गठबंधन आज सदन में हमारी संख्या साबित करेगा।

बाला साहब थोराट ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए नाना पटोले कांग्रेस के उम्मीदवार होंगे। वहीं महाराष्ट्र महाविकास अघाड़ी के नेता थोड़ी देर में विधानसभा में विश्वास मत और विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव को लेकर चर्चा के लिए बैठक करेंगे।

उद्धव ठाकरे ने पीएम नरेंद्र मोदी ट्वीट कर जताया आभार
महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बधाई संदेश पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी आपकी शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद। केंद्र में आप जैसे बड़े भाई और राज्य में मजबूत कैबिनेट के साथ मैं नए महाराष्ट्र के निर्माण को लेकर लगातार काम करता रहूंगा।'
 
बहुमत परीक्षण के पहले शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी के बीच डिप्टी सीएम पद को लेकर सहमति नहीं बन सकी है। एक तरफ कांग्रेस जहां अपनी पार्टी के लिए एक डिप्टी सीएम का पद चाहती है वहीं एनसीपी और शिवसेना ने इसे लेकर असहमति का इजहार किया है। जानकारों के अनुसार बहुमत परीक्षण के पहले गठबंधन में शुरू हुआ विवाद बड़ा रूप ले सकता है।

इस बीच बहुमत परीक्षण से पहले अघाड़ी ने भाजपा के कालिदास कोलंबकर को प्रोटेम स्पीकर से हटाकर एनसीपी के दिलीप वलसे पाटिल को नया प्रोटेम स्पीकर बना दिया है।

सियासी उठापटक के बीच मंगलवार को अघाड़ी ने मुंबई के ग्रैंड हयात होटल में 162 विधायकों के समर्थन का दावा करते हुए भाजपा और जनता के लिए शक्ति प्रदर्शन किया था। कुछ निर्दलीय सदस्यों के समर्थन का दावा भी महाविकास अघाड़ी कर रही है। सदन में भाजपा के 105 सदस्य हैं और पार्टी के रूप में वह सबसे बड़ा दल है। 

मुंबई के ऐतिहासिक शिवाजी पार्क में गुरुवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले उद्धव ने शुक्रवार को करीब डेढ़ बजे मंत्रालय की छठी मंजिल पर स्थित मुख्यमंत्री कार्यालय में पहुंच कर पदभार संभाला था। इस अवसर पर मंत्रालय को खूब सजाया गया था।

पदभार संभालने पहुंचे उद्धव के साथ उनके विधायक-पुत्र आदित्य ठाकरे तथा एनसीपी-कांग्रेस के नेता भी मौजूद थे। यहां पहुंचने से पहले उद्धव महाराष्ट्र के गठन के आंदोलन में शहीद होने वाले लोगों की स्मृति में बने हुतात्मा चौक पर गए और उन्हें श्रद्धांजलि दी।
इसे भी पढ़ें- इस कारण एक बार फिर विवादों में आई सलमान की दबंग 3

सीएम ठाकरे ने ली बैठक 
पदभार संभालने के बाद सीएम उद्धव ठाकरे ने अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने जनता से जुड़े कार्यों में तेजी लाने और पैसे की बर्बादी रोकने का भी निर्देश दिया। बैठक के बाद उद्धव ने कहा- मैं आज पहली बार मंत्रालय आया हूं। अधिकारियों के साथ बैठक की। मैंने उनसे कहा कि टैक्स देने वाली जनता का पैसा ठीक तरह से खर्च हो और इसे बर्बाद नहीं किया जाना चाहिए। महाराष्ट्र में एक पैसे की हेराफेरी नहीं होगी।

आरे कार शेड प्रोजेक्ट रोकने का एलान
महाराष्ट्र में नई सरकार बनने के बाद आरे कॉलोनी में मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए बन रहे कार शेड का काम रोकने के आदेश दे दिए गए हैं। हालांकि आदेश में कहा गया है कि मेट्रो का काम जारी रहेगा, लेकिन अब एक भी पेड़ नहीं काटा जाएगा। 

यह जानकारी खुद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को मीडिया को दी। उन्होंने कहा कि आरे में मेट्रो शेड का काम रोक दिया गया है। उद्धव ने कहा कि मैं महाराष्ट्र का पहला सीएम हूं जिसका जन्म मुंबई में हुआ। 
ये बात मेरे दिमाग में चल रही है कि मैं मुंबई के लिए क्या कर सकता हूं। उन्होंने कहा कि मैं अचानक ही सीएम बन गया। जब यह जिम्मेदारी मेरे पास आई, अगर मैं इससे भागता तो मुझे बालासाहब ठाकरे की नालायक औलाद कहा जाता। 

किसी भी लांड्री में नहीं धुल सकता भगवा रंग- उद्धव
मंत्रालय में मुख्यमंत्री के तौर पर कार्यभार संभालने के बाद संवाददाताओं से बातचीत के दौरान एक सवाल के जवाब में ठाकरे ने कहा कि यह (भगवा) उनका पसंदीदा रंग है जो किसी भी लॉन्ड्री में धुलाई से जाएगा नहीं। मुख्यमंत्री से यह सवाल भगवा रंग के कुर्ते के बारे में किया गया था जो उन्होंने पहन रखा था।
फडणवीस ने सरकार पर साधा निशाना

भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र की नवगठित उद्धव सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल की पहली बैठक में उसने किसानों को राहत देने पर चर्चा करने के बजाय बहुमत साबित करने पर चर्चा करना जरूरी समझा। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'नई सरकार ने मंत्रिमंडल की पहली बैठक में परेशान किसानों की मदद कैसे की जाए इस पर विचार करने के बजाय बहुमत कैसे साबित करें इस पर चर्चा की। तो फिर आंकड़े होने का दावा ही क्यों किया था। उन्होंने यह भी कहा कि नियम को ताक पर रख कर गठबंधन प्रोटेम स्पीकर को क्यों बदला, जबकि वह बहुमत होने का दावा कर रहा है।
सरकार के पास बहुमत है: अब्दुल सत्तार
इससे पहले शिवसेना के अब्दुल सत्तार ने कहा, 'शनिवार को बहुमत परीक्षण हो सकता है। हम तैयार हैं। पहले हमारे पास 162 विधायकों का समर्थन था। अब यह संख्या 170 हो गई है। यह संख्या और बढ़ेगी। लेकिन इस बात में कोई संदेह नहीं है कि इस सरकार के पास बहुमत है। ये तीनों पार्टियां पांच साल अच्छा प्रदर्शन करेंगी और अगले 10 सालों तक सत्ता में रहेंगी।'

जुड़े हमारे फेसबुक पेज से- https://www.facebook.com/firsteyenws/
ट्विटर पर हमें फॉलो करें- https://twitter.com/firsteyenewslko
सब्सक्राइब करें हमारा यूट्यूब चैनल-https://www.youtube.com/channel/UChwj7_fqaFUS-jghSBkwtDw

Recent Comments

Leave a comment

Top