एक देश, एक नागरिक, एक सेवा की हुई शुरुआत

 एक देश, एक नागरिक, एक सेवा की हुई शुरुआत

एक देश, एक नागरिक, एक सेवा की हुई शुरुआत

Posted by: Mr. Diwakar Pathak, Updated: 26/10/19 02:37:13pm


लखनऊ। प्रदेश मुखिया योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को आपात सेवा 112 और वरिष्ठ नागरिक सुरक्षा पहल सवेरा की शुरुआत की। डॉयल 100 भवन में इस अवसर पर उनके साथ कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान भी मौजूद रहे ।सीएम योगी आदित्यनाथ ने डीजीपी ओपी सिंह की मौजूदगी में कहा कि प्रदेश के सभी पुलिसकर्मियों को और संवेदनशील होकर जनता की सुरक्षा का काम करना होगा। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि सभी थानों में अलग महिला सेल की भी जरूरत है। सीएम योगी ने कहा की डॉयल112 और सवेरा की शुरुआत देश के सबसे बड़े राज्य के सबसे बड़े पुलिस बल की नई शुरुआत की हमें  खुशी है।

इसे भी पढ़े:  5 लाख 51 हजार दीपक जलाकर इतिहास रचेगा अयोध्या

उन्होंने कहा कि नई सेवा से पुलिसकर्मी तकनीक के साथ आमजन का विश्वास प्राप्त करने में सफलता प्राप्त कर सकते हैं। पुलिस ने समय के साथ बहुत सुधार किया है। प्रदेश की पुलिस काफी पब्लिक फ्रेंडली होकर आमजन के करीब पहुचीं। पुलिस की बेहतर व्यवस्था का उदाहरण कुम्भ और चुनाव का सफल आयोजन है। उन्होंने कहा कि बिना भेदभाव के सभी को सुरक्षा उपलब्ध कराना हमारा लक्ष्य है।सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पूरे देश मे 112 को एकीकृत रूप से हेल्प सेवा के रूप में स्थापित करना है। फायर, एम्बुलेन्स,आपात स्थिति, आदि विभिन्न सहयोग के लिए अलग-अलग फोन नंबर याद करने की जरूरत नहीं होगी।

इसे भी पढ़े : हिंदू समाज पार्टी की नई अध्‍यक्ष होगी क‍िरण कमलेश त‍िवारी

विभिन्न तकनीको के माध्यम से रेस्पोंस टाइम में कमी लाई जाएगी। अब सवेरा पहल के माध्यम से बुजुर्गों को सहायता उपलब्ध कराएगा। इसी प्रकार महिलाओं के लिए विशेष व्यवस्था की जानी चाहिए। बिना भेदभाव के सभी को सुरक्षा उपलब्ध कराना हमारा लक्ष्य है।सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रयागराज कुम्भ और प्रवासी भारतीय दिवस के आयोजन में सभी ने कहा कि पुलिस का व्यवहार अच्छा लगा। प्रयागराज कुम्भ में मौनी अमावस्या स्नान करोड़ो लोगों की उपस्थिति में निर्विघ्न सम्यन्न हुई। पुलिस ने हर जगह पर अपनी दक्षता का परिचय दिया। अब तो जनता की अपेक्षा पर खरा उतरने की जरूरत है।सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अभी कुछ समय तक डॉयल 100 साथ चलेगा बाद में 112 ही लगातार चलेगा। अब डॉयल 112 को प्रमोट करना होगा। 108 और 102 मेडिकल सेवा, 1090 और सीएम हेल्पलाइन सभी सेवाएं एक साथ जुडऩे का बेहतर उदाहरण है। अब अलग अलग काम के लिए अलग नम्बर की जरूरत नहीं है। 108 से देर लगे तो 112 डॉयल कर सकता है। नई तकनीक से कॉलर तक सेवा तुरंत पहुंचेंगी। 

इसे भी पढ़े:  हरियाणा: मनोहरलाल बने बीजेपी विधायक दल के नेता 

रिस्पांस टाइम के साथ रूट चार्ट भी बने। यूपी पुलिस ने वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा के लिए भी बेहरत पहल की है। जिनका कोई सहारा नहीं उनमे नया विश्वास पैदा होगा है। मेरा मानना है कि महिलाओं की सुरक्षा के लिए घर की हिंसा पर हेल्पलाइन भी इससे जुड़े।इस अवसर पर डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक दिन है। आज हम एक नई योजना के साथ आ रहे हैं। यूपी पुलिस के नए प्रयोगों में एक नई शुरुआत कर रहे हैं। यूपी 100 का नया नाम 112 होगा  एक देश एक नागरिक एक सेवा शुरू कर रहे हैं। वरिष्ठ नागरिकों के लिए सवेरा अभियान की भी शुरुआत कर रहे है। मुख्यमंत्री योगी के रूप में हमें मार्गदर्शक मिलना हमारे लिए गर्व की बात है। हम उनकी हर परीक्षा में खरा उतरेंगे ऐसा हमको भरोसा है।  

Recent Comments

Leave a comment

Top