पाकिस्‍तान में सत्‍ता के खिलाफ विरोध की आवाज बुलंद करने वाले मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को उतारा जा रहा मौत के घाट

पाकिस्‍तान में सत्‍ता के खिलाफ विरोध की आवाज बुलंद करने वाले मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को उतारा जा रहा मौत के घाट

पाकिस्‍तान में सत्‍ता के खिलाफ विरोध की आवाज बुलंद करने वाले मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को उतारा जा रहा मौत के घाट

Posted by: Mr. Diwakar Pathak, Updated: 26/10/19 04:38:36pm


नई दिल्ली। पाकिस्‍तान में अपने अधिकारों की लड़ाई लड़ रहे लोगों का जीना दुस्वार हो गया है। पाकिस्‍तान सरकार और सेना ऐसे लोगों को अपना निशाना बना रही हैं। यही नहीं सत्‍ता के खिलाफ विरोध की आवाज बुलंद करने वाले मानवाधिकार कार्यकार्ताओं को मौत के घाट उतारा जा रहा है। पाकिस्‍तानी सेना और प्रशासन द्वारा ऐसे लोगों को आतंकी करार दिया जा रहा  है। पाकिस्‍तान छोड़कर विदेश जाने वाले लोगों के ऐसे आरोपों पर एकबार फ‍िर मुहर लगती दिखाई दे रही है। गुलालई इस्माइल द्वारा तमाम मंचों पर आवाज बुलंद किए जाने के बाद आखिरकार पाकिस्‍तान ने मान लिया है कि गुलालई इस्‍माइल के पिता प्रो मोहम्‍मद इस्‍माइल उसकी हिरासत में हैं।

इसे भी पढ़े : तो क्या इमरान से छिनेगा पाकिस्तान!

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने ट्वीट करके बताया की पाकिस्‍तान ने  माना है की  दिग्‍गज मानवाधिकार कार्यकर्ता गुलालई इस्‍माइल के पिता प्रो. मोहम्मद इस्माइल साइबर अपराध के एक मामले में पेशावर में कानून प्रवर्तन अधिकारियों की हिरासत में हैं। बता दें कि पाकिस्‍तान का यह कबूलनामा अमेरिका के प्रो. मोहम्मद इस्माइल के लापता होने की घटना की निंदा किए जाने के बाद सामने आया है। गुलालई इस्माइल ने आरोप लगाया था कि पेशावर में गुरुवार को एक अदालत के बाहर प्रो. मोहम्मद इस्माइल को अज्ञात लोगों ने कथित तौर पर अगवा कर लिया था। बता दें कि पाकिस्‍तान गुलालाई इस्माइल के माता-पिता पर आतंकी फंडिंग के आरोप में मुकदमा चला रहा है।इस घटना के बाद एमेनेस्‍टी इंटरनेशनल में पाकिस्‍तान की रिसर्चर राबिया मेहमूद ने ट्वीट कर कहा कि प्रो. मोहम्मद इस्माइल एफआइए की साइबर क्राइम विंग की हिरासत में हैं। अमेरिका की दक्षिण और मध्‍य एशिया मामलों की सहायक सचिव एलिस वेल्‍स ने पाकिस्‍तान में हो रहे गुलालई इस्‍माइल के परिजनों के उत्‍पीड़न को लेकर चिंता जताई।

इसे भी पढ़े: नवाजुद्दीन को कुर्सी से बांधकर सनी लियोन ने किया धमाकेदार डांस, देखें वीडियो 

उन्‍होंने ट्वीट कर कहा कि पाकिस्‍तान नागरिकों की अभिव्‍यक्ति की आजादी का सम्‍मान करे। गुलालई इस्माइल के पिता को हिरासत में लेने के खिलासे पर फ‍िलहाल पाकिस्‍तानी एजेंसी एफआइए का बयान सामने नहीं आया है। बता दें कि पाकिस्तान से भागकर अमेरिका पहुंचीं गुलालाई ने अंतरराष्ट्रीय मंचों पर पाकिस्तान में हो रहे अल्पंसख्यकों और महिलाओं के उत्पीड़न की तमाम दास्तानें उजागर की हैं। गुलालाई इस्माइल ने कल कहा था कि पेशावर से उनके पिता को अगवा करके जब कोर्ट में पेश किया गया तो उनकी हालत खराब थी। उनकी हालत से लग रहा था कि उन्‍हें कैद करके टॉर्चर किया गया। गुलालाई ने कहा था कि उनके पिता को आतंकित किए जाने की घटना वास्तव में उन महिलाओं को डराने का प्रयास है जो पाकिस्तान में अपने अधिकार मांगने की हिम्मत जुटा रही हैं। उन्‍होंने यह भी कहा था कि मानवाधिकारों के हनन के कारण पाकिस्तान की छवि खराब हो रही है।

Recent Comments

Leave a comment

Top