इस्लामाबाद: ट्रेन में जले शवों की पहचान के लिए होगा डीएनए परीक्षण

इस्लामाबाद: ट्रेन में जले शवों की पहचान के लिए होगा डीएनए परीक्षण

इस्लामाबाद: ट्रेन में जले शवों की पहचान के लिए होगा डीएनए परीक्षण

Posted by: Firsteye Desk, Updated: 02/11/19 05:12:54pm


इस्लामाबाद। पाकिस्तान में एक ट्रेन में आग लगने से जलकर मरे अधिकांश लोगों के शवों की पहचान के लिए फोरेंसिक विशेषज्ञों ने डीएनए परीक्षण कराने की योजना बनाई है। अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी। कराची से रावलपिंडी जा रहे एक यात्री ट्रेन में खाना पकाने वाले गैस सिलेंडर में विस्फोट के चलते आग लग गई थी।

 

उत्तर प्रदेश : 14 बेसिक शिक्षा अधिकारियों के तबादले, किसे मिली कहां तैनाती जानें 

परिजनों को दफनाने के लिए शव सौंपे जाने से पहले 52 जले शवों की पहचान करने के लिए डीएनए टेस्ट की आवश्यकता है। रावलपिंडी से चलने वाली तेजगाम एक्सप्रेस के तीन डिब्बे इस त्रासदी में पूरी तरह से नष्ट हो गए थे, जिसके चलते कम से कम 74 लोगों की मौत हो गई थी।

त्यौहार मनाकर लौटे यात्रियों को ट्रेन का सफर करना पड़ रहा महंगा 

अधिकांश पीडि़त पाकिस्तान के सबसे बड़े धार्मिक समारोहों में से एक वार्षिक तब्लीगी इज्तिमा में भाग लेने के लिए यात्रा कर रहे थे। इस समारोह में हर साल लाहौर के बाहर एक गांव में चार लाख लोग जुटते हैं, जो एक साथ दुआएं करते हैं, खाते-पीते और साथ सोते हैं।

Recent Comments

Leave a comment

Top