चिन्मयानंद मामला: एसआईटी ने जब्त किया भाजपा नेता डी.पी.एस.राठौर का लैपटॉप-पेनड्राइव

चिन्मयानंद मामला: एसआईटी ने जब्त किया भाजपा नेता डी.पी.एस.राठौर का लैपटॉप-पेनड्राइव

चिन्मयानंद मामला: एसआईटी ने जब्त किया भाजपा नेता डी.पी.एस.राठौर का लैपटॉप-पेनड्राइव

Posted by: Firsteye Desk, Updated: 04/11/19 04:16:21pm


शाहजहांपुर। भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाने वाली कानून की छात्रा से संबंधित वसूली मामले में विशेष जांच टीम (एसआईटी) ने भाजपा नेता डी.पी.एस. राठौर का लैपटॉप और एक पेनड्राइव जब्त कर ली है। माना जा रहा है कि घटना से संबंधित वीडियो क्लिप्स इसमें हैं। चिन्मयानंद द्वारा दर्ज वसूली मामले में संदिग्ध भूमिका के लिए राठौर से एसआईटी ने रविवार को 12 घंटों तक पूछताछ की थी।

इस कारण रुकी इंडिगो की सेवाएं, यात्री परेशान

राठौर जिला सहकारी बैंक का चेयरमैन है और राजस्थान के दौसा में भी मौजूद था जहां एसआईटी की टीम ने 30 अगस्त को मेंहदीपुर बालाजी मंदिर के निकट 23 वर्षीय छात्रा को बरामद किया था। छात्रा 24 अगस्त को लापता हो गई थी। कानून की छात्रा ने अपनी शिकायत में कहा था कि अजीत सिंह ने उससे पेन ड्राइव ले लिया था, जिसमें उसके यौन शोषण के सबूत हैं। 

 

घर से महज दो सौ मीटर दूरी पर कटा भाजपा नेता विजय गोयल का चालान

भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष जे.पी.एस. राठौर के छोटे भाई राठौर ने बाद में संवाददाताओं से कहा, मैं प्रशासन का सहयोग करने की कोशिश कर रहा था, लेकिन लग रहा है कि एसआईटी को कुछ गलतफहमी हो गई थी। उन्होंने कहा, मैं दौसा कुछ वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के आग्रह पर लापता छात्रा की तलाश में सहायता करने गया था। डी.पी.एस. राठौर ने कहा कि उस समय उनके साथ एक अन्य भाजपा नेता अजीत सिंह थे। अजीत सिंह वसूली मामले के आरोपी विक्रम का साला है।
 

Recent Comments

Leave a comment

Top