अमेरिका ने आईएसआईएस के खतरे पर भारत को किया अलर्ट

अमेरिका ने आईएसआईएस के खतरे पर भारत को किया अलर्ट

अमेरिका ने आईएसआईएस के खतरे पर भारत को किया अलर्ट

Posted by: Firsteye Desk, Updated: 06/11/19 02:38:46pm


वाशिंगटन। खूंखार आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के सरगना अबु बकर अल-बगदादी के मारे जाने के बाद भी खतरा अभी टला नहीं है। दरअसल, यह आतंकी संगठन दुनियाभर में अपने पांव पसार चुका है। अमेरिका का कहना है कि इस समय दुनिया में आईएस की 20 शाखाएं खुल चुकी हैं। चिंता की बात यह है कि एक शाखा दक्षिण एशिया में भी ऐक्टिव है और इसने पिछले साल भारत में आत्मघाती हमले की कोशिश की थी। एक टॉप अमेरिकी अधिकारी ने अपने सांसदों को यह जानकारी दी है।

इसे भी पढ़ें- प्याज़ निकालेगा और आंसू, बढ़ सकता है भाव 

राष्ट्रीय आतंकवाद निरोध केंद्र के कार्यवाहक निदेशक, राष्ट्रीय खुफिया विभाग के निदेशक कार्यालय के रसेल ट्रेवर्स ने मंगलवार को कहा कि वास्तव में आईएस की सभी शाखाओं में आईएसआईएस-के (खोरासन) वह संगठन है जो अमेरिका के लिए सबसे अधिक चिंता का विषय है। भारतीय मूल की सांसद मैगी हसन के एक सवाल के जवाब में उन्होंने यह बात कही। हसन ने कहा, आईएस की सभी शाखाओं और नेटवर्क में से आईएसआईएस-के एक ऐसी शाखा है जो सबसे अधिक चिंता का विषय है। इसमें 4,000 लड़ाके हैं। उन्होंने अफगानिस्तान के बाहर हमले करने की कोशिश की। 

 

इसे भी पढ़ें- पायलट ने महिला पैसेंजर को कॉकपिट में बिठाया खाना भी खिलाया, और फिर....

हसन ने पिछले महीने अफगानिस्तान और पाकिस्तान की यात्रा की थी। इसी दौरान उन्होंने आईएसआईएस-के के बढ़ते और वास्तविक खतरे के बारे में अमेरिकी सेना की चिंताओं को लेकर पहली बार सुना था। आईएस की यह शाखा अफगानिस्तान में है। उन्होंने कहा, मैंने पहली बार सुना कि आईएसआईएस-के ने न केवल अफगानिस्तान में मौजूद अमेरिकी सेना को धमकी दी बल्कि उसने अमेरिका पर हमला करने की कोशिश की।
 

Recent Comments

Leave a comment

Top