Home क्राइम कवयित्री मधुमिता की बहन के घर फायरिंग, अमरमणि त्रिपाठी पर लगाए संगीन आरोप

कवयित्री मधुमिता की बहन के घर फायरिंग, अमरमणि त्रिपाठी पर लगाए संगीन आरोप

0
कवयित्री मधुमिता की बहन के घर फायरिंग, अमरमणि त्रिपाठी पर लगाए संगीन आरोप

कवयित्री मधुमिता शुक्ला की बहन निधि शुक्ला एक बार फिर चर्चा में हैं। उन्‍होंने पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी पर खुद पर जानलेवा हमले का आरोप लगाया है। निधि के मुताबिक, सोमवार सुबह करीब 3 बजे कुछ बदमाशों ने उनके घर पर फायरिंग की। वहां मौजूद पुलिस वालों की वजह से हमलावर घर में नहीं घुस पाए। एसपी गणेश शाहा ने बताया कि निधि के घर के पास एक बुलेट बरामद हुई है। एएसपी और एसडीएम ने मौके पर जांच की है। मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है।

आपको बता दें कि यूपी के बाहुबली नेता रहे अमरमणि त्रिपाठी कुछ दिन पहले ही पत्‍नी के साथ जेल से उम्रकैद की सजा काटकर बाहर निकले हैं। उन्‍हें मधुमिता शुक्‍ला हत्‍याकांड में सजा मिली थी। निधि शुक्‍ला ने इस केस की पैरवी की थी। निधि ने आरोप लगाया कि जब से अमरमणि त्रिपाठी को जेल से रिहा किया गया, तब से उन्‍हें धमकियां मिल रही थी। मौके पर पहुंची पुलिस को जांच के दौरान घर के पास कारतूस मिला है। उनके घर की टाइल्‍स टूटी मिली है।

गोली मारकर हत्‍या

उभरती कवयित्री मधुमिता शुक्‍ला की 9 मई, 2003 को लखनऊ के पेपरमिल इलाके में स्थित उनके घर में गोली मारकर हत्‍या कर दी गई थी। वह सात महीने की गर्भवती थीं। उनके और अमरमणि के बीच संबंध थे और इस कत्‍ल की साजिश में अमरमणि की पत्‍नी मधु भी शामिल थीं। जब ये वारदात हुई तब अमरमणि तत्‍कालीन बसपा सरकार में कैबिनेट मंत्री थे। पहले यूपी पुलिस, फिर सीबीसीआईडी इस मामले को 20 दिन तक लटकाती रही।

ये भी पढ़ें-यूपी को 3 नई वंदे भारत, 5 नए स्टेशनों की PM मोदी ने दी सौगात

बीस दिन बाद ये मामला सीबीआई के पास पहुंचा। तब अमरमणि और उनकी पत्‍नी गिरफ्तार हुईं। इस मामले के ट्रायल के दौरान गवाहों को धमकाने का सिलसिला जारी रहौ। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर 2005 में यह केस लखनऊ से उत्‍तराखंड ट्रांसफर कर दिया गया।