Home बिज़नेस जिस बैंक में थे उसी के सामने शुरू हुई नौकरी, ये छोटा सा शेयर…अब लाखों में हैं कमाई

जिस बैंक में थे उसी के सामने शुरू हुई नौकरी, ये छोटा सा शेयर…अब लाखों में हैं कमाई

0
जिस बैंक में थे उसी के सामने शुरू हुई नौकरी, ये छोटा सा शेयर…अब लाखों में हैं कमाई

रईस मूवी में शाहरुख खान का एक मशहूर डायलॉग था “अम्मी जान ने कहा था कि कोई छोटा छोटा नहीं होता और चॉकलेट से बड़ा कोई धर्म नहीं होता”। आपकी सोच तय करती है कि आप कितना आगे बढ़ेंगे। बिश्ता के रहने वाले अनूंदा अख्तर ने भी बड़ी सोच का उदाहरण पेश करते हुए बैंक की नौकरी छोड़ अपना काम शुरू कर दिया। अनुज ने चौक क्षेत्र में “पिज़्ज़ा कार्ट” की शुरुआत की। आज अनुज अपने इस काम से ही मोटी कमाई कर रहे हैं।

अंजू फोटोग्राफर ने बताया कि उन्होंने 18 साल की उम्र से ही काम करना शुरू कर दिया था। 15 साल तक उन्होंने प्राइवेट बैंक में नौकरी की। बैंक ने वेतन तो दिया लेकिन कोई प्रमोशन नहीं मिला. मीटिंग के बाद कुछ समय के लिए अच्छा लगा। लेकिन फिर हाथ खाली हो गए और अगले महीने की नौकरी का इंतजार शुरू हो गया। अनुज ने बताया कि जब ये हालात तंग हो गए तो उनकी बेटी ने सलाह दी कि क्यों न अपना काम शुरू किया जाए। उसके बाद बेटी की सलाह पर उन्होंने पिज़्ज़ा कार्ट की शुरुआत की। अब अनूज टैगोर ऑर्केस्ट्रा के चौक इलाके में न्यू पिज़्ज़ा किंग के नाम से पिज़्ज़ा कार्ट पर पिज़्ज़ा स्मारकों को आयोजित किया जाता है।

बैंक के बाहर ही शुरू हुआ पिज़्ज़ा कार्ट
अंजू बिल्डर उसी बैंक के बाहर ही पिज्जा कार्ट चला रहे हैं जहां पहले नौकरी करते थे। अंजू शाम करीब 5 बजे से रात 9 बजे तक वह अपना पिज्जा कार्ट बजाते हैं। अंजू टेलर के पास एक करीबी से सबसे ज्यादा वैरायटी का पिज्जा है। उनके यहां पिज्जा 60 रुपये से लेकर 400 तक उपलब्ध है। अनुज के हाथ से बने सिंपल वेज, फॉर्म हाउस और तंदूरी स्पेशल पिज्जा की डिजाइन सबसे ज्यादा रहती है। उनके हाथ से बना हुआ पिज्जा लोगों को इतना पसंद आता है कि लोग दूर-दूर से खाने के लिए आते हैं. खास बात यह है कि कस्टमर द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, कस्टमर कस्टमर के सामने ही पिज्जा तैयार करते हैं।

पिज्जा के सामने ही तैयारी करते हैं
अनुज फोटोग्राफर ने बताया कि वह बेकरी से पिज्जा बेस खरीद कर लाते हैं। उसके ऊपर सबसे पहले पिज़्ज़ा साचेल रुक फिर फ्लेवर्स के अकाउंट से टॉपिंग करते हैं। टॉपिंग करने के बाद पिज़्ज़ा बनाने वाली भट्टी में रखा जाता है। 4 से 5 मिनट तक भट्टी में खाना पकाने के बाद इसे बाहर निकाला जाता है। फिर उसके ऊपर ऑरगेनो और चिली के कब्जे वाले सेक्टर से विडिओ कर मसाला के साथ कस्टमर को सर्व कर दिया जाता है। अंजू टेलर के यहां से लोग पिज्जा को पैक करवा भी ले जाते हैं। मोटापे के अलग से कोई चार्ज नहीं लिया गया.