Home बिहार बिहार में 250 किसानों के साथ धोखाधड़ी, एक ही बैंक ने दिया लोन

बिहार में 250 किसानों के साथ धोखाधड़ी, एक ही बैंक ने दिया लोन

0
बिहार में 250 किसानों के साथ धोखाधड़ी, एक ही बैंक ने दिया लोन

बिहार में फर्जीवाड़े का खेल ऐसा हुआ कि मरने वालों के नाम पर ही लोन उठा लिया. घर पर जब बैंक से नोटिस पहुंचा तो पता चला कि उन्होंने तो कर्ज ही नहीं लिया है. बिहार के गोपालगंज से हैरान करने वाला मामला सामने आया है. बीते मंगलवार (12 मार्च) को पीड़ित किसान परिवार डीएम ऑफिस पहुंचे. मामला जानकर गोपालगंज के डीएम भी दंग रह गए. करीब 250 किसानों के साथ ऐसा हुआ है.

क्या है मामला?

बताया जाता है कि जिले के भू-स्वामी (किसान) की मौत के बाद जमीन का फर्जी दस्तावेज तैयार कर बैंक से केसीसी लोन ले लिया गया. मामला फुलवरिया प्रखंड के बथुआ बाजार स्थित को-ऑपरेटिव बैंक का है. पीड़ित किसानों ने बताया कि जिनकी मौत सालों पहले हो चुकी है, उनके नाम पर केसीसी का लोन उठा लिया गया और अब मृतक किसानों के परिजनों के पास लोन की राशि जमा करने के लिए नोटिस भेजा जा रहा है.

उचकागांव प्रखंड से पहुंचे किसानों ने बताया कि ओझवलिया गांव में 37, सनाह गांव में 60, पेनुला खास गांव में 62, ठकुराइ गांव में 65 किसानों से फर्जीवाड़ा कर केसीसी की राशि उठा ली गई है. जिलाधिकारी ने किसानों की शिकायत को सुनने के बाद मामले को गंभीरता से लेते हुए को-ऑपरेटिव के प्रबंध निदेशक को जांच करने और रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया है. जिलाधिकारी ने कहा कि पूरे मामले की टीम गठित कर जांच कराई जा रही है.

 छह साल पहले मौतफिर लोन कैसे?

उचकागांव थाना क्षेत्र के सनाह माधो की निवासी शोभा देवी के नाम पर केसीसी का लोन है. परिवार वालों का कहना है कि शोभा देवी की छह साल पहले ही मौत हो चुकी है, फिर उनके नाम पर लोन किसने लिया?

10 साल पहले मौतनाम पर ले लिया लोन

उचकागांव थाना क्षेत्र के पेनुला खास गांव के रहने वाले योगेंद्र राम की पत्नी राजमति देवी का निधन 10 साल पहले हो गया. परिवार में किसी सदस्य को पता नहीं है कि मृतक के नाम पर लोन भी है.

फफक कर रो पड़ीं महिलाएं

उधर मंगलवार को गोपालगंज जिलाधिकारी के पास पहुंची महिला किसानों ने अपना दुखड़ा सुनाया और फफक कर रो पड़ीं. जिलाधिकारी को बताया कि उन्होंने कभी भी केसीसी नहीं कराया और बैंक से लोन नहीं लिया. इसके बावजूद नोटिस भेज कर लोन जमा करने और पैसा जमा नहीं कराने पर जेल भेजने की धमकी चौकीदार द्वारा दी जा रही है. महिलाओं ने पुलिस अधीक्षक स्वर्ण प्रभात से भी इसकी शिकायत की है. पुलिस कप्तान भी अपने स्तर से जांच करा रहे हैं.

डीएम बोले- दोषियों के खिलाफ होगी कार्रवाई

इस मामले में जिलाधिकारी मकसूद आलम ने कहा कि पीड़ित किसानों की शिकायत को गंभीरता से लिया गया है. टीम गठित कर इसकी जांच कराई जाएगी. किसके नाम पर केसीसी लोन हुआ और कैसे फर्जीवाड़ा हुआ जांच रिपोर्ट के आधार पर इस मामले में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.