Homeउत्तर प्रदेशआगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर एक बस दूध के टैंकर से टकराई, 18 लोगों...

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर एक बस दूध के टैंकर से टकराई, 18 लोगों की मौत

उत्तर प्रदेश के उन्नाव के पास एक सड़क दुर्घटना में बस में सवार 18 लोगों की मौत हो गई है जबकि 19 लोग घायल हुए हैं.

हादसा तब हुआ जब एक स्लीपर बस आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर उन्नाव से गुज़र रही थी. यह बस दूध के टैंकर से टकरा गई.

हादसा उन्नाव के गढ़ा गांव के पास एक्सप्रेसवे के 248 नंबर माइल स्टोन के क़रीब हुआ.

पुलिस के मुताबिक़, हादसा टैंकर को ओवरटेक करने के दौरान हुआ. टैंकर से टक्कर के बाद बस एक्सप्रेसवे पर पलट गई. जिसकी वजह से बस में सवार कई यात्रियों की तो मौके पर ही मौत हो गई.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, स्लीपर बस बिहार के सीतामढ़ी से मोतिहारी होते हुए दिल्ली जा रही थी.

हादसे के कारणों का स्पष्ट तौर पर अभी पता नहीं चल सका है. घायलों को उन्नाव की बांगरमऊ सीएचसी में इलाज के लिये भेजा गया है. गंभीर रूप से घायल कुछ यात्रियों को इलाज के लिये लखनऊ भेजा जा रहा है.

हादसे पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुख व्यक्त करते हुए ज़िला प्रशासन को मौक़े पर पहुंच कर राहतकार्य तेज़ी से करने के निर्देश दिए हैं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म एक्स पर लिखा, “जनपद उन्नाव में सड़क दुर्घटना में हुई जनहानि अत्यंत दुःखद एवं हृदय विदारक है. मेरी संवेदनाएं शोकाकुल परिजनों के साथ हैं. ज़िला प्रशासन के अधिकारियों को मौके़ पर पहुंचकर राहत कार्य में तेज़ी लाने के निर्देश दिए गए हैं.”

हादसे में मरने वाले यात्रियों में 14 पुरुष, 2 महिलाएं और 2 बच्चे भी शामिल हैं.

केंद्र सरकार ने मृतकों के परिजनों को दो लाख रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है. पीएमओ ने एक्स पर पीएम मोदी काबयानजारी किया है, “जिन लोगों ने अपनों को खोया है, उनके प्रति मेरी संवेदनाएं.”

उन्नाव के ज़िलाधिकारी गौरांग राठी के मुताबिक़, “हादसा सुबह 5.15 बजे हुआ. ये एक निजी स्लीपर बस थी. शुरुआती जांच में ऐसा लग रहा है कि बस की रफ़्तार काफ़ी ज़्यादा थी. हादसे में मरने वालों में उत्तर प्रदेश और बिहार दोनों प्रदेशों के यात्री थे. हमने कंट्रोल रूम में 6 नंबर जारी किए हैं. जिन पर संपर्क करके यात्रियों की जानकारी ली जा सकती है.”

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा, “घायलों को उन्नाव ज़िला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घायलों को बेहतर सुविधा वाले अन्य अस्पतालों में शिफ्ट किया जा रहा है. आसपास के सभी अस्पतालों को अलर्ट किया जा चुका है.”

उन्होंने कहा कि अधिकांश घायल लोग बिहार से हैं और उत्तर प्रदेश सरकार बिहार सरकार से संपर्क में है.

RELATED ARTICLES

Most Popular