Home राजनीति बंगाल में BJP ने ये क्या कर दिया? सर्वे उड़ा देगा CM ममता बनर्जी के होश

बंगाल में BJP ने ये क्या कर दिया? सर्वे उड़ा देगा CM ममता बनर्जी के होश

0
बंगाल में BJP ने ये क्या कर दिया? सर्वे उड़ा देगा CM ममता बनर्जी के होश

लोकसभा चुनाव 2024 का दंगल शुरू हो गया है. सभी दल चुनावी की तैयारियों में जुट गए हैं. इसके साथ पश्चिम बंगाल में भी सियासी सरगर्मियां बढ़ गई हैं. यहां तृणमूल कांग्रेस, बीजेपी और कांग्रेस के त्रिकोणीय मुकाबला होने के आसार बताए जा रहे हैं, यहां 7 चरण में वोटिंग होगी.

सीईसी के मुताबिक सूबे में पहले चरण के लिए 19 अप्रैल को, दूसरा चरण में 26 अप्रैल, तीसरा चरण 7 मई, चौथा चरण 13 मई, पांचवां चरण 20 मई, छठा चरण 25 मई और सातवां चरण 1 जून को वोटिंग होगी. इस बीच TV9 भारतवर्ष ने पश्चिम बंगाल में एक सर्वे किया है, जिसमें चौंकाने वाले नजीते सामने आए हैं.

सर्वे के मुताबिक पश्चिम बंगाल की 42 सीट में से बीजेपी सबसे ज्यादा 26 सीट जीतती नजर आ रही है. वहीं सत्तारूढ़ टीएमसी 16 सीटें जीत सकती है, जबकि कांग्रेस का पश्चिम बंगाल में खाता भी नहीं खुलता दिख रहा है.

पश्चिम बंगाल में कब-कब होगा मतदान?

पहले चरण में पश्चिम बंगाल की कूचबिहार, अलीपुरद्वार, जलपाईगुड़ी सीट पर मतदान होगा. 26 अप्रैल दूसरे चरण के लिए दार्जिलिंग, रायगंज और बालुरघाट सीट पर वोटिंग होगी. 4 मई को तीसरे फेज में मालदा नॉर्थ, मालदा साउथ, मुर्शिदाबाद और जंगीपुर सीट पर वोटिंग होगी.चौथे चरण के लिए पश्चिम बंगाल में 13 मई को वोटिंग होगी. इस चरण में यहां बहरामपुर, कृष्णानगर, राणाघाट, बर्धमान पुरबा, बर्धमान – दुर्गापुर, आसनसोल, बोलपुर, बीरभूम सीट पर वोटिंग होगी.

20 मई को पांचवे चरण के लिए बोनगांव, बैरकपुर, हावड़ा, उलुबेरिया, श्रीरामपुर, हुगली और आरामबाग. वहीं, 25 मई को छठे चरण के लिए तमलुक, कांथी, घाटल, झाड़ग्राम, मेदिनीपुर, पुरुलिया, बांकुरा और बिष्णुपुर में वोटिंग होगी. सातवें और अंतिम चरण के लिए 1 जून को दम दम, बारासात, बशीरहाट, जयनगर, मथुरापुर, डायमंड हार्बर, जादवपुर, कोलकाता दक्षिण और कोलकाता उत्तर पर वोटिंग होगी.

2019 में टीएमसी ने मारी थी बाजी

पश्चिम बंगाल में 2019 के आम चुनावों के दौरान टीएमसी ने 22 सीटों पर विजयी का परचम लहराया था, जबकि बीजेपी ने 18 सीटें जीती थी. वहीं, कांग्रेस को केवल दो सीटों पर सिमट गई थी. 2019 में बीजेपी ने 40.3 फीसदी वोट शेयर के साथ 42 में से 18 संसदीय सीटों पर जीत हासिल की थी. टीएमसी 43.7 फीसदी वोट शेयर के साथ 22 सीटें जीती थी. कांग्रेस पार्टी 5.7 फीसदी वोट शेयर के साथ दो सीटों पर जीती थी.