Homeदेश विदेशमहबूबा मुफ़्ती ने कहा- एफ़आईआर करना सच बोलने की क़ीमत है

महबूबा मुफ़्ती ने कहा- एफ़आईआर करना सच बोलने की क़ीमत है

पीडीपी की अध्यक्ष और जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती का कहना है कि चुनाव के दौरान लागू आचार संहिता का ‘उल्लंघन’ करने को लेकर उन पर एफ़आईआर दर्ज की गई है.

एफ़आईआर की कॉपी की तस्वीर एक्स पर शेयर करते हुए मुफ्ती ने कहा- “ये जानकर हैरानी हुई कि मेरे ख़िलाफ़ एमसीसी (आदर्श आचार संहिता) का उल्लंघन करने के लिए एफआईआर दर्ज की गई है. सत्ता के सामने सच बोलने की कीमत पीडीपी को चुकानी पड़ी है. हमारा विरोध भारत सरकार और स्थानीय प्रशासन की मिलीभगत के ख़िलाफ था. मतदान से कुछ घंटे पहले सैकड़ों पीडीपी पोलिंग एजेंटों और कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया था.”

“इतना करने के बाद भी प्रशासन ने हमारे वोटर्स को डराने और उन्हें अपने मताधिकार का इस्तेमालल करने से रोकने के लिए पारंपरिक पीडीपी के गढ़ वाले क्षेत्रों में घेराबंदी और सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया गया.”

25 मई को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग-रजौरी सीट पर मतदान था. इस सीट से महबूबा मुफ्ती पीडीपी की उम्मीदवार हैं. चुनाव के दिन वो बिजबेहरा इलाके में धरने पर बैठी थीं उनका आरोप था कि पार्टी की ओर से बनाए गए कई बूथ एजेंटों को प्रशासन ने हिरासत में लिया है.

RELATED ARTICLES

Most Popular