Homeदेश विदेशसंदेशखाली में वोटिंग के दौरान तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी समर्थकों के बीच...

संदेशखाली में वोटिंग के दौरान तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी समर्थकों के बीच हिंसक झड़प, कई घायल

पश्चिम बंगाल में सातवें चरण के मतदान के दौरान बशरीहाट संसदीय क्षेत्र में स्थित संदेशखाली के कई इलाकों में तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी समर्थकों के बीच हुई हिंसक झड़प में कई लोग घायल हो गए हैं.

संदेशखाली थाने के एक अधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया, सुबह से ही कई जगह तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी समर्थकों में झड़प हो रही थी.

पुलिस अधिकार ने कहा कि ”पुलिस टीम के पहुंचने पर उस पर भी पथराव हुआ है. भीड़ को हटाने करने के लिए यहां लाठीचार्ज किया गया. इस मामले में कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है.”

बशीरहाटा संसदीय सीट की बीजेपी उम्मीदवार रेखा पात्र ने आरोप लगाया कि ”पुलिस ने हमलावरों के बजाय बीजेपी के पांच समर्थकों को गिरफ्तार कर लिया है. उनको थाने ले जाया गया है. पार्टी के समर्थक उन लोगों की रिहाई के लिए थाने के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं.”

इस झड़प के दौरान तीन राउंड फायरिंग के आरोप भी सामने आए हैं. कुछ जगह बम फेंके जाने की भी खबर सामने आई हैं. लेकिन पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है.

पुलिस ने बताया कि घायलों को हाटगाछी स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है.वहीं, तृणमूल कांग्रेस ने बीजेपी पर पंचायत समिति की सदस्य के पति पर हमले का आरोप लगाया है. इसमें वो घायल हो गए हैं.

हालांकि बीजेपी के बशीरहाट जिला अध्यक्ष तापस घोष ने कहा, “पंचाय़त सदस्य मोनिका मंडल के पति रामकृष्ण मंडल दल-बल के साथ मतदान केंद्र पर कब्ज़े के लिए पहुंचे थे. लेकिन गांव वालों ने वहां उनका विरोध किया. इस झड़प में वो घायल हो गए. इस घटना से बीजेपी का कोई संबंध नहीं है.”

घोष ने आरोप लगाया कि तृणमूल के लोग बीजेपी समर्थकों को वोट नहीं डालने दे रहे हैं. कई एजेंटों के साथ भी मारपीट की गई है.संदेशखली ईडी की टीम पर हमले, जमीन पर जबरन कब्ज़े और महिलाओं के कथित यौन उत्पीड़न के मुद्दे पर इस साल जनवरी से ही सुर्खियों में रहा है.

बीजेपी ने अपने चुनाव अभियान में इसे सबसे बड़ा मुद्दा बनाया था. पार्टी ने बशीरहाट संसदीय सीट पर संदेशखाली की कथित पीड़िता रेखा पात्रा को ही अपना उम्मीदवार बनाया है.

तृणमूल कांग्रेस ने यहां अपने एक विधायक हाजी नुरुल इस्लाम को मैदान में उतारा है.कोलकाता के जादवपुर के अलावा उत्तर और दक्षिण 24-परगना जिले में कई जगह दोनों गुटों के समर्थकों के बीच हिंसा की खबरें मने आई हैं.जादवपुर में सीपीएम ने तृणमूल कांग्रेस पर अपने कैंप ऑफिस में तोड़फोड़ का आरोप लगाया है.

RELATED ARTICLES

Most Popular